एशियन गेम्स( T20 International )में मेंस क्रिकेट के पहले ही मैच में नेपाल ने इतिहास रच दिया।

एशियन गेम्स में मेंस क्रिकेट के पहले ही मैच में नेपाल ने इतिहास रच दिया।

नेपाल की टीम ने मंगोलिया के खिलाफ 20 ओवर में 3 विकेट के नुकसान पर 314 रन जड़ दिए। ये इंटरनेशनल टी20 के इतिहास का सबसे बड़ा स्कोर है। 300 प्लस स्कोर करने वाली नेपाल पहली टीम बनी है।

नेपाल की टीम ने बनाए टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में 6 रिकॉर्ड।
  • 300+ रन बनाने वाली पहली टीम
  • 314/3 सबसे हाईएस्ट टीम स्कोर
  • 34 गेंदों पर कुशल मल्ला ने सबसे तेज टी20 इंटरनेशनल शतक लगाया
  • 9 गेंदों पर दीपेंद्र सिंह ने सबसे तेज T20I अर्धशतक बनाया
  • 1 इनिंग में सबसे ज्यादा 26 छक्के लगाए

नेपाल के बैटर कुशल मल्ला ने टी20 के इतिहास का सबसे तेज शतक भी ठोका दिया है। उन्होंने केवल 34 गेंदों में शतक जड़ा है। उन्होंने 9 गेंद में ही टी20 की सबसे तेज फिफ्टी कर इतिहास रचा। दीपेंद्र ने अपनी पहली 6 गेंदों पर 6 छक्के मारे। दीपेंद्र ने 10 गेंद में नाबाद 52 रन। उन्होंने 8 छक्के लगाए और रहे नाबाद।

 

इसके साथ ही दीपेंद्र सिंह ने भारत के पूर्व ऑलराउंडर युवराज सिंह का टी20 में सबसे तेज फिफ्टी का रिकॉर्ड भी तोड़ दिया। युवराज ने 2007 के टी20 विश्व कप में इंग्लैंड के खिलाफ 12 गेंद में फिफ्टी की थी। इसी मैच में युवराज सिंह ने स्टुअर्ट ब्रॉड के एक ओवर में 6 छक्के मारे थे।

 

नेपाल के बल्लेबाजों ने 314 रन का पहाड़ खड़ा करने के दौरान कुल 26 छक्के और 14 चौके उड़ाए। नेपाल ने सिर्फ बाउंड्री से ही 212 रन कमाए। कुशल मल्ला ने 50 गेंद में नाबाद 137 रन की पारी खेली। उन्होंने 12 छक्के और 8 चौके मारे। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 237 का रहा।वहीं, दीपेंद्र सिंह ने 520 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए।

 

Leave a comment